दिल्ली में प्रदूषण फैला रहे 75 प्लास्टिक कारखाने सील

नई दिल्लीः यहां के प्रशासन ने दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) की सहमति के बिना या बिना लाइसेंस के हरियाणा के सीमावर्ती गांवों में चल रहीं प्रदूषण फैलाने वाली 75 प्लास्टिक पुनर्चक्रण इकाईयों को सील कर दिया है। राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण ने इससे पहले प्रशासन को ऐसी इकाइयों को बंद करने का आदेश दिया था।
प्रदूषण नियंत्रण निकाय के सदस्य सचिव अरुण मिश्रा ने बताया कि डीपीसीसी और उत्तर दिल्ली नगर पालिका के सब डिविजनल मजिस्ट्रेट ने टीकरी कलां, मुंडका, नांगलोई, कमरूद्दीन नगर, बापरोला, हिरनकूदना और नीलवाल में 25 जुलाई से एक सीलिंग अभियान चलाया। बीते चार दिनों में 210 प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया और बिना लाइसेंस या सहमति के अवैध रूप से चल रहीं 75 प्लास्टिक पुनर्चक्रण इकाइयों को सील कर दिया गया। उनकी बिजली काट दी गई है।

एक दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रुपया     |     एक दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रुपया     |     40 कॉलेजों से प्रतिभागी लेंगे भाग, कोरोना के चलते 3 साल बाद कार्यक्रम     |     Life Insurance : आपके ATM Card पर फ्री में मिलेगा लाइफ इंश्योरेंस, 5 लाख रुपए तक कर सकते हैं क्लेम, जाने नियम     |     छोटी बहन की शादी के लिए बुलंदशहर से आई थी अलीगढ़, पुराना मथुरा बाईपास पर हुआ हादसा     |     बटाला नेशनल हाइवे पर अकाली नेता पर तीन राउंड फायर; मौत, दोस्त के साथ जा रहे थे अमृतसर     |     राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज से दो दिवसीय हरियाणा दौरे पर     |     दक्षिण अफ्रीका टीम को खेलना पड़ेगा क्वालिफाइंग राउंड     |     3 करोड़ उपभोक्ताओं की बढ़ी परेशानी, फॉल्ट और बिल सुधार के कोई काम नहीं होंगे     |     पाकिस्तानी सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में TTP कमांडर समेत 11 आतंकवादी ढेर     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें-8418855555