लोकसभा चुनाव में खर्च हुए 60 हज़ार करोड़ रुपए, प्रत्येक उम्मीदवार ने लुटाए इतने पैसे

नई दिल्लीः सत्रहवीं लोकसभा के चुनाव पर करीब साठ हज़ार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है यानी हर संसदीय सीट पर हुआ अनुमानित खर्च सौ करोड़ रुपये से अधिक रहा है।

यह दावा सेंटर फॉर मीडिया स्टडीज द्वारा इस लोकसभा चुनाव में खर्चों पर जारी होने वाली रिपोर्ट में किया गया है। यह रिपोर्ट तीन जून को राजधानी में जारी की जाएगी। पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाई कुरैशी ने इस रिपोर्ट की भूमिका लिखी है। यह अब तक हुए किसी भी चुनाव में खर्च सर्वाधिक राशि है। 2014 के चुनाव में करीब तीस हज़ार करोड़ रुपए खर्च किये गए थे। इस तरह 2014 के लोकसभा चुनाव की तुलना में इस साल खर्च करीब दो गुना है।

उन्होंने लिखा है कि जिस तरह चुनाव में धन का इस्तेमाल हो रहा है और राजनीति का अपराधीकरण बढ़ रहा है उसे देखते हुए लग रहा है कि 2019 के चुनाव से अधिक पारदर्शी निष्पक्ष और मुक्त चुनाव भविष्य में नहीं हो सकता है। रिपोर्ट के अनुसार कुछ राज्यों में उम्मीदवरों ने 40 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किये और औसतन प्रति मतदाता सात सौ रुपए खर्च हुए।

एक दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रुपया     |     एक दिसंबर को लॉन्च होगा डिजिटल रुपया     |     40 कॉलेजों से प्रतिभागी लेंगे भाग, कोरोना के चलते 3 साल बाद कार्यक्रम     |     Life Insurance : आपके ATM Card पर फ्री में मिलेगा लाइफ इंश्योरेंस, 5 लाख रुपए तक कर सकते हैं क्लेम, जाने नियम     |     छोटी बहन की शादी के लिए बुलंदशहर से आई थी अलीगढ़, पुराना मथुरा बाईपास पर हुआ हादसा     |     बटाला नेशनल हाइवे पर अकाली नेता पर तीन राउंड फायर; मौत, दोस्त के साथ जा रहे थे अमृतसर     |     राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज से दो दिवसीय हरियाणा दौरे पर     |     दक्षिण अफ्रीका टीम को खेलना पड़ेगा क्वालिफाइंग राउंड     |     3 करोड़ उपभोक्ताओं की बढ़ी परेशानी, फॉल्ट और बिल सुधार के कोई काम नहीं होंगे     |     पाकिस्तानी सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में TTP कमांडर समेत 11 आतंकवादी ढेर     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें-8418855555