कोरेगांव-भीमा मामला: CJI गोगोई के बाद जस्टिस भट्ट भी नवलखा की याचिका की सुनवाई से हुए अलग

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश एस रविंद्र भट्ट ने नागरिक अधिकार कार्यकर्त्ता गौतम नवलखा की याचिका पर सुनवाई से गुरुवार को खुद को अलग कर लिया। नवलखा ने कोरेगांव-भीमा हिंसा मामले में अपने खिलाफ दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने से इनकार करने वाले बंबई हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी है। इससे पहले चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति बी आर गवई भी नवलखा की याचिका पर सुनवाई से अलग हो गए थे।

नवलखा की याचिका सुनवाई के लिए उस पीठ के सामने आई जिसमें न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति विनीत सरन और न्यायमूर्ति एस रविंद्र भट्ट शामिल थे। सुनवाई शुरू होते ही न्यायमूर्ति भट्ट ने मामले की सुनवाई से खुद को अलग कर लिया जिसके बाद पीठ ने कहा कि इस याचिका पर अन्य पीठ शुक्रवार को सुनवाई करेगी।

क्या आपको पता है बेलपत्र के पत्तों के फायदे, साथ में हो तुलसी के पत्तों का कॉम्बिनेशन फिर देखें कमाल     |     कोठीभार पुलिस ने पीड़ित महिला के शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर आरोपी के गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम को किया रवाना     |     समग्र विकास व बदलाव लाने का बजट- गांव, गरीब, किसान, युवा और महिलाओं के लिए कल्याणकारी     |     ग्राम सभा करमहा में श्री श्री 108 रुद्र महायज्ञ में सदर विधायक ने किया रामलीला मंच का उदघाटन     |     25 हजार का इनामिया गैंगेस्टर का वांछित अभियुक्त गिरफ्तार     |     केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में की पूजा-अर्चना     |      नौकरी का झांसा देकर स्वामी प्रसाद मौर्य का निजी सचिव बन ठगी करने वाले गिरोह का छठा सदस्य गिरफ्तार     |     कुछ लोग राम को काल्पनिक मानते थे, अब अयोध्या में भगवान राम का मंदिर बन रहा है: सीएम योगी     |      महिला मित्र के साथ रह रहा सॉफ्टवेयर इंजीनियर 20वीं मंजिल से कूदा, हुई मौत      |     विजय की फिल्म ‘थलपति 67’ में संजय दत्त की धमाकेदार एंट्री…     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088