तिहाड़ जेल में देता था VIP सुविधाएं, नौकरी से गंवाने पड़े हाथ

नई दिल्लीः तिहाड़ जेल प्रशासन ने एक सहायक जेल अधीक्षक को नौकरी से बर्खास्त कर दिया है। बर्खास्त हुए सहायक जेल अधीक्षक का नाम पवन है। पवन पर आरोप था कि वह जेल में कैदियों से भेंट के लिए पहुंचे परिजनों को वीआईपी सुविधाएं मुहैया कराता था।

आरोपी सहायक जेल अधीक्षक को बर्खास्त किए जाने की पुष्टि तिहाड़ जेल मुख्यालय प्रवक्ता राजकुमार ने आईएएनएस से की है। जानकारी के मुताबिक तिहाड़ जेल में तीन सीपीआरओ यानी  सेंट्रल पब्लिक रिलेशन ऑफिसर हैं। पवन भी इन तीन में से ही एक सीपीआरओ था। पवन बहैसियत सहायक अधीक्षक सन 2018 में ही तिहाड़ जेल में आया था।

पवन की बतौर सीपीआरओ तिहाड़ जेल नंबर-3 पर तैनाती थी। इन दिनों उसकी ड्यूटी रात की थी। अदालती आदेश पर जेल से पैरोल या फिर नियमित रूप से जमानत पर छोड़े गए कैदियों को जेल से बाहर करना पवन की ड्यूटी थी। आरोप के मुताबिक करीब 10-15 दिन पहले पवन ड्यूटी के दौरान कुछ कैदियों के परिचितों को जेल के भीतर ले जा रहा था। यह घटना जेल परिसर में मौजूद सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

तिहाड़ जेल मुख्यालय सूत्रों के मुताबिक, कैदी की रिहाई या फिर मिलाई के वक्त, उसके किसी भी परिचित या अन्य बाहरी आदमी को जेल की देहरी के भीतर नहीं ले जाया जा सकता है। सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद जेल महानिदेशक संदीप गोयल ने जांच कमेटी बैठा दी। आंतरिक जांच में पवन पर आरोप सिद्ध हो गए, लिहाजा उसे तत्काल प्रभाव से तिहाड़ जेल सेवा से बर्खास्त कर दिया गया।

ट्रैक्टर ट्राली से टकराई बाइक, दो लोगों की मौत, एक गंभीर घायल     |     मुख्यमंत्री चौहान ने दिल्ली के गणतंत्र दिवस समारोह में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले एन.सी.सी. कैडेट्स को किया सम्मानित     |     नेशनल हाईवे से हिदायत देकर हटवाया अतिक्रमण     |     20 लीटर नाजायज कच्ची शराब व एक चाकू के साथ तीन गिरफ्तार     |     जिले में 25 जनवरी को मनाया जाएगा 13वां ’राष्ट्रीय मतदाता दिवस’-जिलाधिकारी     |     केरल की फुटबाल टीम ने 20 गोल कर बनाया इतिहास, दमन-दीव को हराया     |     श्रावस्ती में महसूस क‍िए गए भूकंप के झटके     |     मुख्यमंत्री चौहान ने निजी वेबसाइट का किया शुभारंभ     |     अडानी समूह मामले में कांग्रेस का कामकाज स्थगित करने का नोटिस        |     37 परिवारों को मकान निर्माण के लिए मिले 44 लाख…. बाढ़ में कट गए थे रामनगरा गांव के 37 परिवारों के घर, 44 लाख कृषकों को 21. 84 करोड़ का अनुदान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088